नहीं है कुछ भी

नहीं है कुछ भी मेरे दिल में सिवा उसके,
मैं उसे अगर भुला दूँ तो याद क्या रखूँ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

© 2019 Shayari Guru - Powered by PixelWebMedia