Sharabi Shayari

मदहोश कर देता है तेरे ये देखने का अंदाज़

मदहोश कर देता है तेरे ये देखने का अंदाज़ और लोग सोचते हैं कि हम पीते बहुत है

Read More
Sharabi Shayari

मैं तोड़ लेता अगर वो गुलाब होती

मैं तोड़ लेता अगर वो गुलाब होती! मैं जवाब बनता अगर वो सवाल होती! सब जानते हैं मैं नशा नहीं करता, फिर भी पी लेता अगर वो शराब होती!

Read More
Sharabi Shayari

दिल के दर्द से बड़ा कोई दर्द नहीं होता

दिल के दर्द से बड़ा कोई दर्द नहीं होता, आशिकों का शराब के सिवा कोई हमदर्द नहीं होता, जब दिल टूटता है तो आँसू उनके भी निकलते हैं, जो कहते हैं कि “मर्द को दर्द नहीं होता..”

Read More
Sharabi Shayari

यादों से सलाम लेता हूँ

यादों से सलाम लेता हूँ, वक्त के हाथ थाम लेता हूँ, ज़िन्दगी थम जाती है पल भर के लिए, जब हाथों में शराब-ए-जाम लेता हूँ…

Read More
Sharabi Shayari

दूसरों के लिए ख़राब ही सही

दूसरों के लिए ख़राब ही सही, हमारे लिए तो ज़िन्दगी बन जाती है, सौ ग़मों को निचोड़ने के बाद ही, एक कतरा शराब बन जाती है…

Read More
Sharabi Shayari

रात गुम सी है मगर चैन खामोश नही

रात गुम सी है मगर चैन खामोश नही, कैसे कह दूँ आज फिर होश नही, ऐसा डूबा तेरी आँखों की गहराई में , हाथ में जाम है मगर पीने का होश नही

Read More
Sharabi Shayari

पी के रात को हम उनको भुलाने लगे

पी के रात को हम उनको भुलाने लगे; शराब मे ग़म को मिलाने लगे; ये शराब भी बेवफा निकली यारो; नशे मे तो वो और भी याद आने लगे।

Read More
Sharabi Shayari

तुम सिर्फ मेरी ख़ुशी में मेरा साथ देती हो

तुम सिर्फ मेरी ख़ुशी में मेरा साथ देती हो बस एक यही शराब है जो… कभी साथ नहीं छोडती 😥 Tum sirf meri khushi me mera saath deti ho Bas ek yahi sharab hai jo… Kabhi saath nahi chhodti 😥

Read More