Sad Shayari And Status

मुकद्दर को क्यों बुरा कहूं जब अपने ही हरामखोर थे

Post Copied
Image Downloading... Shayari in Hindi Download Image

मुकद्दर को क्यों बुरा कहूं
जब अपने ही हरामखोर थे